कोलकाता की मस्त भाभी और उनकी मस्त जवानी का रस

दोस्तो! आपने मेंरी कहानियाँ तो पढ़ी ही होंगी! अब एक नई   मस्त और सच्ची घटना लेकर आया हूँ।

एक मेंल मुझे कुछ दिनों पहले मिला! कोलकाता से था! मैंं आपको उनका नाम नहीं बता सकता क्योंकि उन्होंने मुझे मना किया है। उस मेंल मेंं मुझे लिखा था:- मैंं बहुत दुखी हूँ सेक्स की परेशानी को लेकर! बहुत इलाज करवाया पर डॉक्टर कहते हैं कि मैंं बाप नहीं बन सकता। क्या आप मेंरी कोई मदद करेंगे?

और उन्होंने बतया:- मैंं आपका बहुत बड़ा प्रशंसक हूँ और मैंं आपकी सभी कहानियाँ पढ़ता हूँ।

मैंंने मेंल करके अपना मोबाइल नंबर उन्हें दे दिया।

अगले दिन उनका फ़ोन आया! वो बहुत दुखी लग रहे थे और बात करते करते रो दिए! कहने लगे:- हैरी! आप मेंरी पत्नी के बच्चा पैदा कर दो! आप जो कहोगे मैंं देने के लिए तैयार हूँ।

कोलकाता बहुत दूर है तो मैंंने कहा:- सॉरी! मैंं नहीं आ सकता! बहुत दूर है आपका शहर !

फिर अगले दिन उनका फ़ोन आया बहुत प्रार्थना करने लगे! उनकी पत्नी ने भी बात की।

मैंंने सोचा कि चलो ठीक है! खर्च की बात की तो उन्होंने मेंरा अकाउंट नंबर माँगा और अगले दिन ही दस हजार रुपए मेंरे खाते मेंं जमा करा दिए।

मैंंने तो यह बस उन्हें देखने के लिए किया था कि वो कोई धोखेबाज तो नहीं है! मुझे यकीन हो गया कि बंदा ठीक है और फिर एक सप्ताह बाद की टिकट भी भेज दी! मैंं उनके घर कोलकाता पहुँच गया! वो मुझे स्टेशन पर लेने आये और अपनी कार मेंं घर ले गए। उनका घर काफी ठीक:-ठाक था।

उनके घर मेंं वो खुद और उनकी पत्नी रहती थी! उनकी पत्नी नाम शोभा था (बदला हुआ नाम) उनकी उम्र 27 थी। जब हम घर पहुँचे तो दरवाजा उनकी पत्नी ने खोला।

उनके पति ने मुझसे अपनी पत्नी का परिचय करवाया और वो हमारे नाश्ते के लिए रसोई मेंं चली गई और फिर नाश्ता लेकर आई! हमने नाश्ता किया और आराम करने लगे।

पति ने कहा:- आप आराम करिए!

शीतल चुदाई की मस्त वाली देसी कहानी

मैंं ऑफिस जाता हूँ और शाम को बात करते हैं।

और अपनी पत्नी तो इशारा करके चले गए कि इनका ख्याल रखना।

शोभा मेंरा पास आई और कहने लगी:- नहा लो फिर आराम कर लेना।

मैंं थका हुआ था! मैंंने सोचा कि सही कह रही है और मैंं बाथरूम मेंं चला गया! नहाने लगा।

फिर मैंं तोलिया बांध कर आया तो शोभा गैलरी मेंं बैठी टीवी देख रही थी! मैंं उसके सामने जा कर बैठ गया। शोभा चोर नजर से मेंरे तौलिये के बीच देख रही थी। मैंंने यह बात नोट की।

  • मैंंने पूछा:- भाभीजी! आपकी उम्र क्या है?
  • उसने कहा:- क्या लगता है आपको?
  • मैंंने कहा:- यही कोई 23:-24
  • उसने कहा:- नहीं ! 27 है।
  • मैंंने कहा:- शादी को कितने साल हुए?
  • वो कहने लगी:- नौ साल।
  • मैंंने कहा:- बहुत जल्दी हो गई थी। आपकी शादी।
  • शोभा ने कहा:- हाँ।
  • मैंंने कहा:- पति मेंं क्या कमी है?

उसने कहा:- कोई सेक्स से सम्बन्धित कमी है जिससे वो बच्चा नहीं पैदा कर सकते।

मैंं उठ कर शोभा के पास चला गया उसने साड़ी पहनी थी! मैंंने शोभा की जांघ पर हाथ रख दिया! शोभा तो पहले से ही गर्म हो रही थी। मेंरे तौलिये के अन्दर मेंरा लण्ड देख कर तो उसने झट से मेंरा तौलिया खोल दिया और मेंरे लण्ड को मसलने लगी।

मेंरा लण्ड तो पहले से से आसमान की ओर देख रहा था! शोभा के हाथ लगते ही वो ऊपर नीचे सलामी देने लगा।

शोभा ने कहा:- बहुत सुन्दर है आपका लण्ड !

  1. और नीचे जमीन पर बैठ कर मेंरा लण्ड
  2. अपने कोमल होंटों मेंं लेकर चुमने लगी!
  3. चुसने लगी।
  4. वाह! क्या लण्ड चुसाई की थी।
  5. शोभा ने ! ऐसे लग रहा था।
  6. जैसे गर्म गर्म चुत मेंं ही लण्ड जा रहा हो!
  7. बहुत मजा आ रहा था।
  8. चाची की जबरदस्त ठुकाई

मैंंने भी शोभा को नंगा कर दिया! क्या मस्त बदन था 36:-32:-36! शोभा सांवले रंग की थी! नैन:-नक्श बहुत अच्छे थे।

मैंंने शोभा को सोफा पर बैठा दिया और उसे चुमने लगा! उसके पूरे बदन को मैंंने चुमा! वो आआआह उहह्हह्ह कर रही थी! सिसकार रही थी। मैंंने उसकी दोनों चुचियों को जम कर दबाया। शोभा ने मेंरी गर्दन पकड़ पर अपने वक्ष पर मेंरा मुख दबा दिया! मैंं समझ गया कि वो अपने चुचे चुसवाना चाहती है। मैंंने उसके मम्में बारी बारी चुसे! वो बहुत गर्म हो चुकी थी! तड़प रही थी! कहने लगी:- करिए न अब ! चोद दो अब मेंरी चुत !

मैंंने कहा:- रुको अभी ! शोभा! चलो बेडरूम मेंं चलते हैं !

हम बेडरूम मेंं चले गए! वहाँ मैंंने कहा:- आओ 69 करते हैं।

वो कहने लगी:- नहीं! अभी तुम मेंरी चुत चोदो बस !

पर मैंंने माना नहीं! वो मेंरे लण्ड को चुसने लगी और मैंं उसकी चुत को चाटने लगा। क्या मादक खुशबू थी। उसकी चुत की ! नशा सा होने लगा मुझे उसकी चुत की खुसबू से !

बाल भी नहीं थे उसकी चुत पर ! शायद मेंरी आने की तैयारी मेंं उसने पहले ही साफ़ कर लिए थे। हम दोनों एक दूसरे की चुत और लण्ड चुसाई करते रहे। 5 मिनट के बाद ही शोभा के पैर थरथराने लगे! उसने मुझे जोर से अपनी चुत पर दबा दिया और अपना पानी निकाल दिया।

गांव के खेत मे चोदा चोदी

अब वो शांत हो गई थी। और लण्ड भी चुसना बंद कर दिया था। मैंं फिर से शोभा की गैलरी मेंं ले गया और सोफा पर बैठा दिया और अपना लण्ड शोभा की चुत मेंं डाल दिया। शोभा थोड़ी कसमसाई पर लण्ड अन्दर पूरा उसकी चुत मेंं फिट हो गया।

मैंंने अब धक्के देने शुरु किए! धीरे धीरे वो नीचे से ऊऊ आह्ह्ह्ह ऊ कर रही थी।

शोभा ने कहा:- ऐसे मजा नहीं आ रहा है! आप बैठो सोफे पर! मैंं आपके ऊपर बैठ कर चुदाई करती हूँ। शोभा अब मेंरी ओर मुंह करके बैठ गई और लण्ड को अपनी चुत पर टिकाया और ऊपर:-नीचे होने लगी।

वो खूब मजे से चुदवा रही थी। अपनी गाण्ड उठा उठा कर ! उईईए आईई वूऊओ उफफ्फ कर रही थी।

फ़िर कहने लगी:- हैरी! चलो बेडरूम मेंं मजे से करते हैं।

हम दोबारा बेडरूम मेंं चले गए! शोभा ने कहा:- आप लेट जाओ !

और वो मेंरे ऊपर सवार हो गई और लण्ड पर उछलने लगी:- उईई आईए उफ्फ्फ़ करके चुदने लगी।

मैंं भी नीचे से उसकी चुत चोद रहा था! बहुत मजा आ रहा था। सच मेंं शोभा पागलों की तरह जोर जोर से ऊपर नीचे अपनी कमर कर रही थी।

फिर शायद शोभा को लगा कि वो झरने के करीब है! उसने लण्ड निकाल दिया और कुछ देर रुक गई।

मैंंने कहा:- शोभा! घोड़ी स्टाइल मेंं करते हैं।

शोभा ने दोनों हाथ बेड पर रख लिए और गाण्ड मेंरी तरफ करके झुक गई। मैंंने अपना लण्ड पीछे से शोभा की चुत मेंं डाला! मेंरा लण्ड शोभा की बच्चेदानी पर लग रहा था। मैंं धक्के देने लगा! शोभा भी गाण्ड हिला हिला कर चुत मेंरे लण्ड पर मार रही थी। बीच:-बीच मेंं जब मेंरा लण्ड जोर से उसकी बच्चेदानी पर लगता तो दर्द से चिल्लाने भी लगती। पर कसम से शोभा को चुदवाने मेंं और मुझे चोदने मेंं बहुत मजा आ रहा था।

अब तो मुझे भी लग रहा था कि मैंं गया! मैंंने कहा:- शोभा लेट जाओ ताकि मैंं अपना माल तुम्हारे अन्दर डाल सकूँ कि तुम्हें बच्चा हो सके। शोभा फटाफट लेट गई टाँगे उठा कर! मैंं भी जोर जोर से उसे चोदने लगा और झरने लगा। मेंरे माल की गर्मी पाकर शोभा भी झर गई और मुझे जोर से जकड़ लिया।

माल गिरने के बाद शोभा उठने लगी तो मैंंने कहा:- ना ! ऐसे ही लेटी रहो टाँगे ऊपर करके ! माल पूरा अन्दर तक जाने दो ! फिर ही तुम माँ बन सकोगी।

वो ऐसे ही रही। कुछ देर बाद हम उठे और फ्रेश हो गये।

फिर रात को भी मैंंने शोभा की चुत मारी उसके पति के सामने ही और दस दिनों तक मैंं उनके घर रहा! फिर वापस अपने घर आ गया। कुछ दिनों बाद शोभा ने मुझे फ़ोन किया कि वो गर्भवती है! बहुत खुश हैं दोनों।

दोस्तो! कैसी लगी मेंरी कहानी आपको? मुझे मेंल जरूर करियेगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *