Menu Close

पडोस की सेक्सी भाभी – Antarvasna Bhabhi ki chudai kahani

मेरा नाम रवि है।में गुजरात के राजकोट शहर में रहता हूं।में 18 साल का हु।मेरे लंड का साइज 6 इंच है।मुझे भाभी ओर कुवारी लड़की को चोदना बहुत पसंद है। मुझे लड़की यो की गांड मारना ओर चूत चाटना बहुत पसंद है।मैं आप सब से मेरी पहली चुदाई की कहानी बताना चाहता हु। कैसे मैंने मेरे पड़ोस में रहने आयी भाभी को कि चोदा।

कहानी सुरु करने से पहले में आपको भाभी के बारे में बताना चाहता हु।

भाभी का नाम अंजलि है।भाभी की उम्र 28 साल की है।और उसका फिगर साइज 34-28-36 है।और उसकी उभरी हुई बड़ी गांड बहोत मस्त है।

वो जब चलती है तो अच्छे अच्छे के लंड खड़े हो जाते है

यह कहानी एक साल पहले की है।जब भाभी मेरे पड़ोस में रहने आयी थी।वो थोड़े दिनों सब लोगो से अच्छे से घुलमिल गयी।अंजली भाभी ओर मेरी मम्मी थोड़े दिनों में अच्छी दोस्त बन गयी।

Antarvasna bhabhi ki chudai – पड़ोसवाली मामी को चोदा

इसीलिए भाभी अकसर मेरे घर आया करती है।ओर जैसे ही में उसे देखता तो मेरा लंड सलामी देने लगता है।

भाभी का पति का ट्रांसपोर्ट का बिसनेस है।इसीलिए वो ज्यादा बाहर रहते है हफ्ते में सिर्फ 2-3 बार घर आते है।इसीलिए भाभी घरमे ज्यादातर अकेली होती है ओर मैंने जब से उसे देखा तब से में उसे चोदना चाहता था।

में आप सबका का ज्यादा समय न लएते हुए कहानी सुरु करता हु।

एक दिन मेरे घर मे में अकेला था।तब में आंख बंद करके मुठ मार रहा था तब अचानक भाभी आ गयी और मुझे देखलिया पर मेरी आँख बंद थी ऐसीलिये मुझे कुछ पता ना चला।वो मुझे ऐसे देखकर चली गयी।ओर मुझे कुछ पता नही चला कि भाभी ने मुझे मुठ मरते देख लिया।

फिर दूसरे दिन में कुछ काम से भाभी के घर गया तो उसका देखने का नज़ररिया बदल गया ओर मुझे थोड़ा अजीब सा लग रहा था कि अचानक भाभी को क्या हुआ।और फिर में अपने घर आ गया।

में तब में बाहरवी कक्षा में था। ओर मैथ्स मेरा कमजोर था। तब मेंने मा को ये बताया तब मा ने भाभी को रिक्वेस्ट की के मुझे मैथ्स पठाये क्योंकि भाभी ने बहोत पठाय की है। तब उसी दिन साम को 5 बजे मुझे पठाने आयी।

Antarvasna bhabhi ki chudai – अजनबी लड़के ने टाँगें उठा कर चोदा

मैं ओर भाभी मेरे रूम में अकेले थे और भाभी मुझे पठा रही थी।पर मेरा ध्यान पढ़ने के अलावा भाभी के बड़े बूब्स पे मेरा ध्यान था।और भाभी को ये पता चल गया और उसने कुछ नही कहा और मुझे मैथ्स सीखाने लगी ओर मुझे एक मैथ्स की प्रॉब्लम सॉल्व करने दे दी।जब मैं प्रॉब्लम सॉल्व कर रहा था तब भाभी ने अचानक कहा कि कल तुम जब घर पर अकेले थे तब तुम जो कर रहे थे वो मैंने देख लिया ।और ये सुनते ही मेरे हाथ से पेन छूट गयी और में कांपने लगा।

तभी भाभी ने कहा के डरो मत में किसीको कुछ नही कहूंगी।तब मुझे थोड़ी राहत मिली।और उसी वक्त भाभी खुल के बात करने लगी।उसने मुझे पूछा के तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड नही है जो तुम ये सब करते हो।मेने कहाँ की कोई मिली ही नही।तब उसने मेरे गाल पर एक किस किया और कहा मैं तो हु तुम्हारी गर्लफ्रैंड तो तुम्हे ओर किसीकी ज़रूरत है।फिर मेने थोड़ी हिम्मत करके उसको भी एक किस कर दिया।

फिर उसने दरवाजा अंदर से बंध किया और मेरे पास आके मुझे जोर से गले लगा दिया और पागलो की तरह मुझे किस करने लगी।
उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि वो सेक्स की बहोत प्यासी है।थोड़ी देर बाद मैंने भी उसका साथ देना सुरु कर दिया।

किस करते हुए मेने उसकी गांड दबाना सुरु कर दिया।पंद्रह मिनट के किस के बाद वो घुटनो के बल बैठ गयी और मेरा पैंट उतारकर लंड मुह में ले और जोर से वो चूस रही।मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था क्योंकि पहली बार किसीने मेरा मुह में लिया ओर लंड पाँच मिनट चूसने के बाद उसने मेरे सभी कपड़े उतार दिए और पूरे बदन को चूमने लगी।

Antarvasna bhabhi ki chudai – पडोसी की बेटी का भोसड़ा

बादमे उसने मुझे कहाकि तुम क्यू ऐसे ही खड़े हो तुम भी कुछ करो।फिर मैंने उसका ब्लाउज उतार दिया।उसने नीचे पिंक कलर की ब्रा पहनी थी ।में उपरसे ही बूब्स जोर से दबाने लगा और वोह आह ऊह ऐसी आवाजे निकालने लगी फिर मैंने एक जटके में ब्रा उतार दी ओर दोनो बूबस को बारी बारी से चूसने लगा ओर चूस चूस के लाल कर दिए।बादमे में उसके पेट को चूमा ओर धीरे से नीचे की ओर गया।

मेने उसके पेटिकोट का नाड़ा खोल दिया और पेटिकोट नीचे गिरा तो मेने देखा की उसने नीचे भी पिंक पैंटी पहनी थी।मेने उसकी चूत को उपरसे चूमा ओर पैंटी निकल दी।उसकी चूत गीली थी और एक मोहक खुसबू आ रही थी वो मुझे अपनि ओर खींच रही थी।
फिर मेने उसका रस पिया तो भाभी कांप उठी मेंने उसकी चूत में जीभ से चोदता रहा और वो कहने लगी ऐसे ही करते रहो।बहोत दिनों के बाद ऐसा मज़ा मिला है।में आज से तुम्हारी हु तुम जो चाहो वो कर सकते हो।ओर थोड़ी जोर से उसने कहा अब तड़पाओ मत जल्दी से अंदर डाल दो।

फिर उसको बेड पर लिटा दिया ओर उसकी दोनो टांगे चौड़ी कर दी।

फिर लंड का सूपाड़ा चूत के मुँह पर रख के एक जोर से धक्का दिया तो सूपाड़ा अंदर चला गया और भाभी की चीख निकल गयी।उसकी चूत टाइट थी क्युकी उसने बहोत टाइम से नही चुदवाया।उसका पति भी उसको नही चोदता था।

फिर मैंने उसके मुंह पर हाथ रखा और जोर से एक धक्का दिया तो लंड चूत चिर कर अंदर चला गया तो भाभी के आंख में आंसू गए।फिर थोड़ी देर रुकने के बाद जब दर्द कम हुआ तब धीरे धीरे धक्के देने चालू करे बादमे स्पीड बढ़ा दी अब वो भी मजा ले रही थी।
बिस मिनीट में वो 2 बार जड़ी ओर दोनो बार उसकी चूत का पानी मे पी गया। अब मेरा भी होने वाला था तो मैंने कहा कहा पानी छोड़ु , तो उसने कहा अंदर ही छोड़ दो बाद में में गोली खा लूँगी और 5-6 जोरदार जटके के बाद में जड़ गया और उसकी चूत मेरे पानी से भर गई।

Antarvasna bhabhi ki chudai – अदला बदली की शुरुआत – निशा के जलवे

बादमे हम दोनों थक कर वही लेटे रहे।फिर हमने खुदको साफ किया और कपड़े पहने ओर 10 मिनिट बाद भाभी ने मुझे लिप किस दी ओर कहा अब मैं चलती हु अब कल करेंगे।और वो माँ के पास गई और कहा मैंने रवि को अच्छे से मैथ्स पढा दिया है।अब में कल आउंगी।जब तब रवि बारहवीं में है तब तक मै रोज पढ़ाऊंगी।अब मैं चलती हु ऐसा कहकर वो चली गयी…

हम सात महीने तक रोज ऐसे सेक्स करते रहे और बादमे वो दूसरी जगह रहने चली गयी।

वो कभी कभी हमारे घर आती है और हम टैब सब करते है।

आप लोगो को ये कहानी कैसी लगी मुझे मेल करके ज़रूर बताये – Bharadvapragnesh0[at]gmail.com

First published on – https://antarvasnasexstories.org/pados-wali-bhabhi-ki-chudai/

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *