Menu Close

भाभी का गुस्सा फिर प्यार | INDIAN SEX STORIES

हाय, फ्रेंड्स आई’एम बॅक वित माय अनदर सूपर हॉट इंडियन सेक्स स्टोरी बिट्वीन मी & माय भाभी तो हुआ यू की भाभी ने मना कर दिया की अब मैं तुम्हारे साथ ये सब संबंध नही रखना चाहती.
मैं तो सुलग गया की अब मैं कैसे अपने लॅंड को शांत किया करूँगा भाभी तो मना कर रही है,फिर मैने उसे कहा क्यो मेरी जान ऐसा क्यो कर रही हो, पहले तो तुमने मुझे अपनी चुत की आदत लगा दी और अब मना कर रही हो, देखो ऐसा मत करो मैं अपने आप पर कंट्रोल नही कर पाउन्गा.
तुम्हे पता है ना मेरे पास हमारी रास लीला की रेकॉर्डिंग और वीडियो भी है, मैं सब को दिखा दूँगा क्योकि मैं अब तुम्हारे बिना नही रह सकता, पर साली मान ही नही रही थी, और कहने लगी जिसको दिखना है दिखा दो.
मैने उसे बोहोत डराया पर साली ज़रा भी नही डर रही थी, फिर मैने उसे प्यार से पूछा की बताओ ना मेरी जान क्या बात हो गयी जो मुझे ऐसे सता रही हो, मेरे बार बार पूछने पर वो बोल ही पड़ी की अब वो मुझपे शक करने लगे है, उस दिन उन्होने मुझे लिटाया मुझे चोदने के लिए जब तुमने अपना लॅंड चूसाया था और मैने बोहोत देर तुम्हारा लॅंड चूसा था और फिर हमने किया था और तुमने सारा पानी मेरी चुत मे छोड़ दिया था.
तो बस वोही जब उन्होने मेरे मे अपना डाला तो उन्हे गीला गीला ऐहसास हुआ, और वो एकदम से गाली बकने लगे, की बता किससे करवाती है तू तो मैने कहा ऐसे क्यो बोल रहे हो तो वो कहने लगे की ये तेरी चुत इतनी गीली कैसे है, तो मैने उससे पूछा की फिर तुमने क्या कहा तो वो कहने लगी की.
तो वो कहने लगी की कहती क्या बस यही कहा की आज मन हो रहा था और बस पूरा दिन तुम्हे याद करती और इसी वजह से मेरी गीली हो गयी और तुम शक कर रहे हो, और मैं रोने लगी तो वो कहने लगे की सॉरी मेरी जानेमन मैं तो ऐसेही पूछ रहा था और तुम तो रोने लगी, मैं रू नही तो और क्या करू, और इतना कहकर मैने उन्हे बाहो मे ले लिया और उनके होटो को चूसने लगी और फिर उन्होने उस पूरी रात मुझे चोदा.
इसलिए मैं चाहती हू की अब हमे ये सब बंद कर देना चाहिए, फिर मैने कहा चलो कोई बात नही पर कभी कबार तो कर लिया करेंगे, तो वो कहने लगी हा ये ठीक रहेगा पर जब तक मैं ना कहु तुम कोई कॉल वगेरह या मुझसे मिलने मत आना मैने कहा ठीक है जैसी तुम्हारी मर्ज़ी.
फिर इस बात को धीरे धीरे 1 महीने से ज़्यादा गुज़रा पर ना तो उसने कोई कॉल करी और ना ही मुझसे मिली मैं तो पागल हुए जा रहा था जो रोज़ाना चुत मारा करता था आज अपने हाथो से ही अपना लॅंड हिला हिला कर उसे शांत कर रहा है, बड़ा मूड ऑफ था फिर मैं अपने 1 दोस्त के साथ जी.बी. रोड गया और फुल नाइट वाहा एक रंडी चोदि और और अपनी आग शांत की, फिर उस उसके बड़े वाले बेटे का ज्न्मदिन था तो उस दिन पार्टी वगेरह हुई मुझे भी बुलाया था पर मैं ना गया क्योकि आप सब समझ सकते है की मेरा क्या हाल होता उसे देखकर.
मेरे घर मेरे मॉम डॅड ही गये थे वाहा पर, रात को वो करीब 11 बजे लोटे थे मैने डोर ओपन किया और वो अंदर आ गये, अभी उन्हे आए कुछ देर ही हुई थी की करीब 11:30 या 12 बजे फिर से डोर बेल बजी और मैने डोर ओपन किया तो शॉक रह गया वो मेरे सामने अनिता भाभी खड़ी थी.
मैने कहा क्या हुआ तो वो कहने लगी अंदर नही बुलाओगे क्या तो मैने कहा ओह सॉरी आओ आओ अंदर आओ और वो अंदर आ गयी और पूछने लगी की मम्मी है क्या तो मैने कहा हा है, मेरी तो कुछ कुछ गॅंड फट रही थी की कही ये कुछ कहने तो नही आई, पर फिर मैने सोचा ये औरत होकर अपनी बदनामी थोड़ी करेगी.
फिर वो अंदर आ गयी और मैने मॉम को उठाया की भाभी आई है तो मॉम उठ गयी, और उसे देखकर कहने लगी अनिता तू इस समय कैसे तो वो रोते हुए कहने लगी की उन्होने आपके जाने के बाद खूब शराब पी ली थी और मुझे मार रहे है और गंदी गंदी गालिया दे रहे है और मुझे मार रहे है और घर से भगा दिया और कहने लगे जा यहा से और कही भी मा चुदा जाके यहा मत आइयो मैने उनसे पूछा की आख़िर क्या हुआ तो वो कहने लगे की तू किसी और आदमी से फसि हुई है.
तो मुझे धक्के देकर घर से भगा दिया, और जीने की कुण्डी लगा ली और मैं फिर इधर आ गयी, तो इस पर मम्मी कहने लगी की चल अछा है तू इधर आ गयी और यहा वाहा कही नही गयी फिर मुझे कहा जा रिहान जा जीना लॉक कर आ और सब सो जाओ सुबह उससे बात करूँगी, फिर मैने जीना लॉक किया और सब सोने लगे वो नीचे मोम के साथ सो रही थी और मैं उपर पापा जी के साथ सो रहा था पर जब मैने उसे देखा तो वो मुझे कुछ अजीब सी नज़रो से देख रही थी, जैसे मुझसे कुछ कहना चाहती हो.
फिर मैं भी उसे देखते हुए लाइट ऑफ करके पलंग पर लेट गया, फिर रात मे मुझे नींद तो आ नही रही थी और इधर उधर कर्वते ले रहा था सोच रहा था कुछ हरकत करू मगर सोचने लगा की अगर ये उठ गयी तो कही मॉम को ना बोल दे, फिर थोड़ी देर बाद मुझे मेरे कच्चे मे कुछ ऐसा महसूस हुआ जैसे कोई अपना हाथ से मेरा लॅंड पकड़ कर हिला रहा हो, मुझे मज़ा आने लगा था.
फिर मैने उसका हाथ पकड़ लिया तो मैने देखा वो भाभी थी मैने उसका हाथ पकड़ कर अलग कर दिया फिर सोने की नाकाम कोशिश करने लगा, क्योकि आप सब तो जानते हो ऐसे मे नींद कहा आएँगी, फिर थोड़ी देर बाद उसने फिर बेड के सहारे धीरे धीरे अपना हाथ बढ़ाकर मेरे अंडरवेर मे डालकर मेरा लॅंड हिलाए जा रही थी.
फिर मैने उसका हाथ पकड़ कर झटक दिया और अलग कर दिया पर वो नही मानी और बार बार मेरा लॅंड पकड़ कर हिलाए जा रही थी, फिर मुझे भी मज़ा आने लगा फिर मैने हाथ से उसका हाथ पकड़कर उसे इशारा किया की मेरा हाथ पकड़ अपनी चुत पे ले जा, और उसने ऐसा ही किया और वो मेरा हाथ पकड़कर अपने पेट से होते हुए फिर अपनी चिकनी जाँघो से होते हुए अपनी चुत पे ले गयी और मेरा हाथ पकड़ अपनी चुत पे रख दिया और अपने हाथो से मेरे हाथ को दबाने लगी.
फिर मैने धीरे धीरे अपनी दो उंगली उसकी चूत मे डालकर धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा जिससे वो हल्की हल्की सिसकारिया लेने लगी, जब वो सिसकारिया ले रही थी तो मैने उसका हाथ पकड़ कर एक झटका दिया और उससे अलग हो गया.
फिर मैं उठा और बाहर वाले रूम का बल्ब ऑन किया और भाभी को इशारा किया की छत पे आ जाओ और बोला की मम्मी पापा को भी देख लेना की वो सोए हुए है या नही फिर मेरे जाने के थोड़ी देर बाद वो भी उपर आ गयी.
जब वो उपर आई तो मैं बिल्कुल नंगा खड़ा था जो कछा मैने पहना हुआ था वो भी उतार दिया और अपना लॅंड अपने हाथो मे पकड़ कर उसकी तरफ देखेते हुए उसे इशारे करने लगा और वो झट से मेरे पास आई और मेरे होटो को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी मैने भी देर करते हुए उसके होटो को चूस्ता हुआ उसकी चुत मे दो उंगली डालकर बोहोत तेज़ तेज़ अंदर बाहर करने लगा जिससे वो बोहोत ही ज़ोर ज़ोर से सिसकारिया लेने लगी.
फिर मैने उसकी एक टाँग को उठाया और उसकी चुत पे लॅंड सेट करके एक धक्का मारा तो उसकी चुत गीली होने की वजह से एक ही बार मे मेरा लॅंड पूरा का पूरा उसकी चुत मे घुस गया और उसने अपनी आँखे बंद कर ली और सिसकारियाँ लेते हुए मेरा लॅंड अपनी चुत मे लेने लगी.
कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट सेक्षन मे ज़रूर लिखे, ताकि देसीकाहानी पर कहानियों का ये दौर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.
मैं उसकी चुत मे लॅंड पेले जा रहा था, आज उसके मोटे मोटे चुचे भी और भी ज़्यादा मोटे मोटे लग रहे थे, हर धक्के के बाद मेरी स्पीड बढ़ती जा रही थी, और साथ साथ उसकी सिसकारिया भी ले रही थी. इंडियन सेक्स स्टोरी
फिर थोड़ी देर बाद मेरा झड़ने को था तो मैने उससे कहा की मेरा निकलने वाला है तो वो कहने लगी की बड़ा मज़ा आ रहा है चुप रहो और करते रहो बस फिर थोड़ी देर बाद दो चार धक्के लगाए होंगे मैने और उसकी चुत मे ही अपना सारा माल छोड़ दिया और हाफने लगा और वो हाफ्ते हुए मेरे होटो को चूस्ते हुए बोल रही थी की रिहान आई लव यू मेरी जान मेरी असली खुशी तुम्हारे साथ ही है प्लीज़ मुझे कभी मत छोड़ना और ऐसे ही प्यार करते रहना.
फिर मैने उसे कहा की बहुत देर हो गयी अब नीचे चलते हैं हमने कपड़े पहने और नीचे आ गये और सो गये, फिर उसके बाद क्या हुआ ये सब बाद मे बताउन्गा पहले आप सब के मैल मुझे ज़रूर आने चाहिए मेरी मैल आईडी है आई’एम वेटिंग फॉर युवर रेस्पॉन्स.

Read Antarvasna sex stories for free.

First published on – https://indiansexstories4u.com/%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%AD%E0%A5%80-%E0%A4%95%E0%A4%BE-%E0%A4%97%E0%A5%81%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A4%BE-%E0%A4%AB%E0%A4%BF%E0%A4%B0-%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%B0/

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.